परिंदों की जिंदगी बचाने आगे आया युवा मंच

चूरू (पीयूष शर्मा). मकर संक्रांति पर्व से पहले परवान चढ़ी पतंगबाजी के दौरान चाइनीज मांझे की चपेट में आकर घायल हो रहे पंरिदों की जिंदगी बचाने को युवा मंच आगे आया।

मंच जिलाध्यक्ष विनोद राठी ने बताया कि मंच के युवाओं ने अपनी इस अनूठी पहल को ‘एक शाम-परिंदों के नाम’ दिया। परिंदों की जिंदगी बचाने में जुटे इन युवाओं ने शहर के नेचर पार्क में पहुंचकर यहां चाइनीज मांझे से घायल हुए परिंदों की मरहम पट्टी। रास्ते व पेड़ों पर उलझे मांझे को एकत्रित कर जलाया। ताकि पेड़ों पर बैठने वाले अन्य परिंदें घायल होकर अकाल मौत के ग्रास ना बनें। राठी ने बताया कि चाइनीच प्लास्टिक मांझे की चपेट में आकर यहां एक दुर्लभ प्रजाति का बाज पक्षी मर गया। उसे देखकर युवाओं ने अन्य परिंदों को बचाने की ठानी। ये अभियान आगे भी जारी रहेगा। अभियान में बंशी पंवार, श्रवणकुमार सैनी, राकेश सैनी, भानुप्रकाश सेवदा, आकाश वर्मा व सुभाष कस्वां सहित अनेक युवा भागीदार बने।

You might also like