पार्षद के लिये 2 लाख 50 हजार रुपये रिश्वत लेते दो दलाल रंगे हाथों गिरफ्तार

जयपुर ( हिन्द ब्यूरो)। ए.सी.बी. मुख्यालय के निर्देश पर जोधपुर ग्रामीण इकाई द्वारा आज गुरुवार को ब्यावर, अजमेर में नगर परिषद, ब्यावर के वार्ड नं. 57 के पार्षद कुलदीप बोहरा के दलाल सुनील लखारा और भरत मंगल (दोनों प्राइवेट व्यक्ति) को परिवादी से 2 लाख 50 हजार रुपये रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक भगवान लाल सोनी ने बताया कि ए.सी.बी. की जोधपुर ग्रामीण इकाई को परिवादी द्वारा शिकायत दी गई कि ब्यावर बाजार में स्थित उसकी मिठाई की दूकान के रिनोवेशन के संबंध में नगर परिषद ब्यावर द्वारा जारी नोटिस पर कार्यवाही नहीं करने की एवज में नगर परिषद ब्यावर के वार्ड नं0 57 के पार्षद कुलदीप बोहरा एवं वार्ड नं० 56 के पार्षद अनिल चौधरी द्वारा अपने दलाल भरत मंगल (प्राइवेट व्यक्ति) के माध्यम से 3 लाख रिश्वत राशि मांग कर परेशान किया जा रहा है। जिस पर एसीबी जोधपुर ग्रामीण इकाई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भोपाल सिंह लखावत के नेतृत्व में शिकायत का सत्यापन किया जाकर आज पुलिस निरीक्षक अमराराम खोखर एवं उनकी टीम द्वारा ट्रेप कार्यवाही करते हुये भरत मंगल पुत्र श्री रमेश मंगल निवासी 304 उडान चौक, शाहपुरा मौहल्ला, ब्यावर (प्राइवेट व्यक्ति) के साथ सुनील लखारा पुत्र राकेश निवासी 34 डिग्गी मौहल्ला, डिग्गी चौक ब्याबर (प्राइवेट व्यक्ति) को परिवादी से 2 लाख 50 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है।

 

 

नगर परिषद, ब्यावर के वार्ड नं. 57 के पार्षद कुलदीप बोहरा एवं अन्य संदिग्ध व्यक्ति एसीबी कार्यवाही की भनक लगने पर मौके से फरार हो गये हैं, जिनकी तलाश की जा रही है। एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक  दिनेश एम.एन. के निर्देशन में आरोपियों के आवास एवं अन्य ठिकानों की ए.सी.बी. टीमों द्वारा तलाशी जारी है। एसीबी द्वारा मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जायेगा। एसीबी महानिदेशक  भगवान लाल सोनी ने समस्त प्रदेशवासियों से अपील की है कि भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टोल फ्री हैल्पलाईन नं. 1064 एवं Whatsapp हैल्पलाईन नं. 9413502834 पर 24×7 सम्पर्क कर भ्रष्टाचार के विरुद्ध अभियान में अपना महत्वपूर्ण योगदान दें। एसीबी आपके वैध कार्य को करवाने में पूरी मदद करेगी। विदित रहे कि एसीबी राजस्थान राज्य में राज्य कर्मियों के साथ-साथ केन्द्र सरकार के कार्मिकों के विरूद्ध भी कार्यवाही करने को अधिकृत है।

You might also like