केंद्र सरकार के दो बड़े धोखे महंगाई और बेरोजगारी यही है दो बड़े तोहफे-पूनिया

सादुलपुर (राजेश राजपूत)। पैट्रोलियम पदार्थों के दामों में हो रही बढ़ोतरी व घरेलू गैस सिलैंडरों की सब्सिडी बंद किए जाने पर जहां देश भर में आम लोगों में रोष पनपने लगा है तो वहीं विधायक डॉ कृष्णा पूनिया भी इन मुद्दों को लेकर काफी आक्रामक हो गई है। विधायक कृष्णा पूनिया ने मंगलवार को रेलवे स्टेशन के पास स्थित पेट्रोल पम्प पर सांकेतिक धरना विरोध प्रदर्शन किया।

वही विधायक कृष्णा पूनिया ने कहा, कि जहां केंद्र सरकार की ओर से पैट्रोल, डीजल, घरेलू गैस सिलैंडरों और सी.एन.जी. की कीमत बढऩे और सब्सिडी बंद कर आमजन को दोहरी मार मारने का काम किया है। पूनिया ने अनियंत्रित हो रही महंगाई को लेकर केंद्र सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि मोदी सरकार के अहंकार की आग से आज पूरे देश में आम वर्ग झुलसने लगा है और इस सरकार को आने वाले समय में अपने इस दोगले चेहरे और चरित्र के परिणाम भुगतने पड़ेंगे। पूनिया ने रोष जताते कहा कि केंद्र सरकार की जनविरोधी नीति के चलते देश का गरीब और गरीब हो गया है।

कोरोना मार से देश अभी संभला नहीं कि मोदी की महंगाई नीति ने भी अर्थव्यवस्था को पूरी तरह से चौपट कर दिया है। महंगाई और बेरोजगारी को लेकर केंद्र सरकार और बीजेपी पर निशाना साधते हुए विधायक पद्मश्री डॉ कृष्णा पूनिया ने कहा कि मोदी सरकार देश को दो बड़े तोहफे माफ कीजिए। केंद्र सरकार के दो बड़े धोखे महंगाई और बेरोजगारी यही है दो बड़े तोहफे। उन्होंने कहा कि देश में महंगाई चरमसीमा पर पहुंच गया है। आम आदमी का बजट गड़बड़ा गया है। घर की मूलभूत वस्तुओं की पहुंच आम लोगों के बजट से बाहर होती जा रही है।

इस अवसर पर कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष सतीश पूनिया, नगर पालिका चेयरमैन रजिया गहलोत, रिटायर्ड एडिशनल एसपी नियाज़ मोहम्मद, नगर अध्यक्ष पवन सैनी, पार्षदगण हैदर अली, रफीक पहाड़खानी, लाल मोहम्मद भियानी, मनीराम, सलीम मोहम्मद, जहीर खान, राकेश पूनिया, नाहर सिंह मेघवाल, आशीष मेघवाल, इमरान खींची आदि दर्जनो लोग उपस्थित थे।

You might also like