कार्यकर्ता के दुःख दर्द और संकट में काम आये वही सच्चा जनप्रतिनिधि

कोटा (योगेश जोशी)। भारतीय जनता पार्टी द्वारा राजनीतिक हालातों पर आयोजित ‘‘उल्लास’’ कार्यकर्ता सम्मेलन में आयोजक भवानी सिंह राजावत ने ओजस्वी भाषण में कहा कि वर्तमान में होली मनाना पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए इसलिए सार्थक है कि आज देश ही नहीं पूरी दुनिया में भाजपा सबसे शक्तिशाली पार्टी बनकर उभरी है, इंदिरा गांधी के राज में जहां पूरे देश में कांग्रेस की तूती बोलती थी वहां अब कांग्रेस के दिन लद गए और भाजपा का इतना तीव्र विस्तार हो गया है कि आने वाले समय में सूर्योदय भी भाजपा के राज में होगा और अस्त भी भाजपा के राज में ही होगा। विधायक और सांसद निधि का पैसा जनता का पैसा है किसी की जेब का नहीं, इसको विकास के लिए खर्च कर कोई जनप्रतिनिधि उपकार नहीं करता बल्कि कार्यकर्ता के दुख, दर्द और संकट में जो काम आता है वो ही सच्चा जनप्रतिनिधि होता है।
 
सम्मेलन में उमड़े सैंकड़ों कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए राजावत ने कहा कि हमारा अतीत चुनौतीपूर्ण रहा है, जनसंघ के समय में जब हमारे पूर्वज शहर और गांव में लोगों के बीच जाते थे तो लोग उन्हें घुसने नहीं देते थे, कहते थे कि ये गांधीजी के हत्यारे आ गए, लोकसभा और विधानसभा में संघ के मुट्ठीभर लोग पहुंच पाते थे, 1977 तक कांग्रेस का वर्चस्व रहा, आपातकाल में हमारे लोगों ने 19 महीने जेलें काटी, उसके बाद 1980 में अटल बिहारी वाजपेयी ने भाजपा की स्थापना की और उसके बाद भी गिनती के लोग निर्वाचित होते रहे लेकिन लौहपुरूष लालकृष्ण आडवाणी ने राममंदिर को लेकर रथयात्रा निकाली जिसके बाद पार्टी का जनाधार लगातार बढ़ता चला गया। देश के लोगों का सपना साकार करते हुए अटल बिहारी वाजपेयी ने प्रधानमंत्री के रूप में लाल किले पर तिरंगा फहरा दिया और अब तो पूरे देश में प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भाजपा का आधिपत्य होता जा रहा है, 500 साल बाद श्रीराम मंदिर का निर्माण प्रारम्भ होने और कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद अब ऐसा लग रहा है कि मोदी युग को कोई भी राजनीतिक दल जब चुनौती नहीं दे पायेगा।
 
उन्होंने कहा कि कांग्रेस शासन में हो रहे कोटा शहर के विकास, फ्लाई आॅवर, अण्डर ब्रिज, चम्बल नदी पर रिवर फ्रंट को देखकर कार्यकर्ता विचलित नहीं हो, यह तो विकास की सतत प्रक्रिया है हमारे पूर्वजों ने भी कोटा को नगर से महानगर बनाया, विश्वविद्यालय, मेडिकल काॅलेज, इंजीनियरिंग काॅलेज, कई आरओबी, चैड़ी सड़कें, सीसी रोड़ बनवाये, करोड़ों की पाईप लाईनें बिछाई हैं। कार्यकर्ताओं को चाहिए कि अपनी संघर्ष की प्रवृत्ति को दृढ़ बनाये रखें क्योंकि जनसंघ से लेकर भाजपा तक की यात्रा अपने आप में संघर्ष की गौरव गाथा है, जुल्म और अन्याय के खिलाफ हमारे नेताओं ने निरंतर मुकाबला किया है जिसकी बदौलत आज हम देश की जनता का दिल जीतकर राजसिंहासन हासिल करते जा रहे हैं, भाजपा केवल चुनाव जीतने वाली मशीन नहीं है बल्कि जनता का दिल जीतने वाली मशीन बन चुकी है। उन्होंने कहा कि यह तय हो चुका है कि हम पश्चिम बंगाल को जीत लेंगे और उसके बाद तमिलनाडू और केरल सहित बचे खुचे 2-4 राज्यों में भी जनता का दिल जीतकर कमल के निशान वाले ध्वज को फहरा देंगे लेकिन इसके लिए कार्यकर्ताओं को सामने आने वाली हर चुनौती का मुकाबला करने के लिए तैयार रहना होगा। कार्यकर्ता सम्मेलन को पूर्व महापौर सुमन श्रृंगी, पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष प्रह्लाद पंवार, पूर्व जिला उपाध्यक्ष राकेश मिश्रा, मण्डल अध्यक्ष राजकुमार नन्दवाना, मण्डल अध्यक्ष हुकमचन्द शर्मा, खेड़ा सरपंच बृजमोहन मालव, गोल्याहेड़ी सरपंच मदन मेघवाल, युवा नेता बालचंद मालव, शहर जिला मंत्री रेखा खेलवाल, पूर्व मण्डल अध्यक्ष जगदीश हाड़ा, पूर्व पं.स. सदस्य संजीत गुर्जर, पूर्व मण्डल अध्यक्ष कान सिंह, पूर्व मण्डल अध्यक्ष सुरेश गुर्जर, किसान मोर्चा जिला महामंत्री हुसैन देशवाली, किसान मोर्चा जिला उपाध्यक्ष महावीर सुमन, कैथून नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष वहीद भाई, पूर्व पार्षद भगवान गौतम, धाकड़ समाज अध्यक्ष सत्यनारायण नागर, बंजारा समाज अध्यक्ष प्रेमराज बंजारा, पूर्व पार्षद कलावती निमसे, महिला मोर्चा मंत्री रेखा शर्मा, एससी मोर्चा के पंकज घेंघट आदि ने भी सम्बोधित किया। पूर्व मण्डल अध्यक्ष मनीष गालव ने सम्मेलन का सफल संचालन किया।
You might also like