स्वामी विवेकानंद भारतीय सँस्कृति को विश्व गुरु पद पर स्थापित कर्ता थे – सोनी 

कोटा (योगेश जोशी)। युवा संन्यासी के रूप में भारतीय संस्कृति की सुगन्ध विदेशों में बिखेरने वाले युवाओं के प्रेरणास्रोत स्वामी विवेकानंद की जयंती पर आयोजित राष्‍ट्रीय युवा दिवस के रुप में भाजपा के स्टेशन मण्डल के द्वारा खेड़ली फाटक में मनाया गया । जिसके मुख्य अतिथि भाजपा जिलाध्यक्ष कृष्ण कुमार सोनी, विशिष्ठ अतिथि भाजपा मीडिया संभाग प्रभारी अरविन्द सिसोदिया , परशराम शर्मा , नंदलाल प्रजापति, मण्डल अध्यक्ष रमेश शर्मा चाचा एवं कार्यक्रम संयोजक अमित गौतम  ने संबोधित किया ।  भाजपा शहर जिला अध्यक्ष कृष्ण कुमार सोनी ने उनके व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डालते हुये बताया कि  स्वामीजी ने भारतीय सँस्कृति को विश्व स्तरीय पहचान दिला  कर, विश्वगुरू पद पर स्थापित कर्ता थे । उन्होनें विश्व धर्मसंसद में भारतीय संस्कृति का परचम लहराया था। हिंदुत्व को विश्वस्तरीय पहचान दिलाई थी । स्वामीजी ने बताया था कि आध्यात्म, त्याग और सेवाभाव  के माध्यम से राष्ट्रवाद का चिंतन किया जाना चाहिये ।   उन्होंने बताया है कि स्वामी विवेकानंद ने कोलकाता में रामकृष्ण मिशन और गंगा नदी के किनारे बेलूर में रामकृष्ण मठ की स्थापना की थी । उनकी स्मृति में कन्याकुमारी में विशाल स्मारक स्थपित है । स्वामी  विवेकानंद के जन्म दिन यानी 12 जनवरी को भारत में हर साल राष्ट्रीय युवा दिवस मनाया जाता है ।
मंगलवार को खेड़ली फाटक के भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा स्वामी विवेकानन्द जी  की जयंती पर श्रद्धा सुमन अर्पित किये । इस अवसर पर  जिला अध्यक्ष कृष्ण कुमार सोनी राम बाबू सोनी , सम्भाग प्रभारी अरविंद  सिसोदिया, स्टेसन मंडल के अध्यक्ष रमेश शर्मा ( चाचा) , कार्यक्रम संयोजक अमित गौतम, परशुराम शर्मा, नन्द लाल प्रजापति , गुर्मित जी रन्धवा , नरेंद्र चोरसीया, जगदीश नायक, महेश  शर्मा, राजेश नागर, आनंद नागर, राहुल शर्मा , हेमंत सोलंकी ,  गौरव शर्मा ,  दीपेंद्र सिंह,  मनीष मीणा , दुर्गेश जी सेन,  सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित रहे ।
You might also like