श्रीफलौदी माता मंदिर पर बसंत महोत्सव 16 फरवरी को

कोटा (योगेश जोशी)। अखिल भारतीय मेडतवाल (वैश्य) समाज की निर्वाचित केंद्रीय कार्यकारिणी के पदाधिकारियों की बैठक श्रीफलौदी माता मंदिर, खैराबाद में सम्पन्न हुई। जिसमें परम्परानुसार इस वर्ष बंसत पंचमी महोत्सव आगामी 16 फरवरी को कोरोना गाइडलाइन की अनुपालना करते हुये आयोजित करने का निर्णय लिया गया। मंदिर श्रीफलौदी माताजी महाराज समिति के राष्ट्रीय महामंत्री भंवरलाल सिंगी एवं कोषाध्यक्ष बालमुकुंद गुप्ता ने बताया कि बसंत पर्व पर महाआरती व पूजा-अर्चना सेवा का कूपन ड्रा 7 फरवरी को खैराबादधाम के श्रीफलौदी माता मंदिर परिसर में निकाला जायेगा। जिसकी सूचना सभी समाजबंधुओं को कर दी जायेगी। उन्होंने बताया कि वर्षों से आयोजित हो रहे बसंत पर्व की कुमकुम पत्रिका प्रत्येक पंचायत अध्यक्ष के माध्यम से समाजबंधुओं तक वितरित की जायेगी।
परम्पराओं की पावन तीर्थनगरी
श्रीफलौदी माता के प्राकट्य पर्व के रूप में यहां प्रतिवर्ष फरवरी में पारम्परिक बसंत पंचमी महोत्सव मनाया जाता है। जिसमें देशभर से रहने वाले समाजबंधु व श्रद्धालु धवल वस्त्रों में बारी-बारी से पारम्परिक पूजा-अर्चना करते हैं।बसंत पंचमी के दिन माताजी गर्भगृह से बाहर पधारती हैं। समाज के हजारों पुरूष केसर व चंदन के उबटन से माताजी के चरणों में नमन करते हैं। महिलाएं केवल दर्शन करती हैं। इसी दिन भंडारे में महाप्रसादी का वितरण होता है।
बसंतोत्सव-2021 पर्व पर मंदिर में दर्शन व्यवस्था प्रभारी पार्षद जगदीश गुप्ता एमआरएफ रहेंगे। महाप्रसादी तैयार करवाने की जिम्मेदारी अ.भा. नवयुवक संघ के अध्यक्ष मनीष गुप्ता अलोद वाले की टीम एव वरिष्ठ समाजसेवी बसंतीलाल चौधरी, खैराबाद को दी गई। प्रसाद वितरण व्यवस्था पुरूषोत्तम शुक्रवारिया, महिला श्रद्धालुओं की दर्शन व्यवस्था समाज की उपाध्यक्षा बबीता जुलानिया, पचौर एवं सहमंत्री जया गुप्ता, झालावाड़ देंखेंगी। बैठक में समाज के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पुरूषोत्तम गुप्ता, इंदौर, राधेश्याम गुप्ता मंडावर वाले, ओमप्रकाश सेठिया, राजेंद्र प्रसाद गुप्ता पनवाड़, सहमंत्री उमेश गुप्ता, जेतपुरा, कैलाशनारायाण गुप्ता, ब्यावरा, दिलीप करोड़िया, इंदौर, मूलचंद गुप्ता, झालावाड, राधिकेश सर्राफ, इंदौर आदि पदाधिकारी मौजूद रहे।
You might also like