नगरपरिषद कार्यालय पर सफाई कर्मचारियों ने किया हंगामा

सुजानगढ़ (अमित प्रजापत)। नगरपरिषद की सफाई कर्मचारी भंवरीदेवी व उसके लडक़े अमरचंद के साथ कथित तौर पर मंगलवार की रात को गांधी चौक में हुए अभद्र व्यवहार और मारपीट की बात को लेकर नगरपरिषद के सफाईकर्मचारियों ने हंगामा खड़ा कर दिया। इस हेतु सभी सफाई कर्मचारी गांधी चौक से एकत्रित होकर रैली के रूप में नारेबाजी करते हुए नगरपरिषद कार्यालय पहुंचे और गेट पर ही धरना शुरू कर दिया।

काफी देर तक नारेबाजी होने के चलते मीटिंग को बीच में ही छोडक़र आयुक्त सोहनलाल धरना प्रदर्शन कर रहे सफाई कर्मचारियों के बीच पहुंचे और वहीं बैठ कर वार्ता शुरू की। लेकिन प्रदर्शनकारी आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर अड़ गए और कहा कि जब तक गिरफ्तारी नहीं होगी, तब तक हम लोग सफाई कार्य का बहिष्कार करेंगे।

काफी देर तक बात नहीं बनने पर आयुक्त ने प्रदर्शनकारियों के प्रतिनिधिमंडल को वार्ता के लिए आमंत्रित किया। जिस पर सफाई कर्मचारियों की ओर से पुखराज जमादार, श्रवण सियोता, दीनदयाल सियोता, प्रदेश सियोता, ओमप्रकाश ओपरेटर, रेंवतमल के साथ आयुक्त सोहनलाल, मोहम्मद ईदरीश गौरी, उप सभापति अमित मारोठिया लक्ष्मीपत प्रजापत आदि द्वारा वार्ता की गई। मौके पर सीआई किशनसिंह भी मय जाब्ते के पहुंचे।

आयुक्त की ओर से सफाई निरीक्षक कलजीतसिंह की रिपोर्ट पर पुलिस को आरोपियों के विरूद्ध कानूनी कार्यवाई को लेकर अनुरोध किया गया है। वहीं आयुक्त ने बताया कि नगरपरिषद के कर्मचारी की गरिमा हमारी गरिमा है, इसको किसी भी सूरत में कम नहीं होने दिया जायेगा।

प्रदर्शनकारियों में से विश्वदेव भवंरलाल, सुभाष तेजस्वी आदि ने बताया कि मंगलवार की रात को जब गांधी चौक में भंवरीदेवी व उसका लडक़ा अमरचंद सफाई कार्य कर रहे थे, तभी कथित रूप से चार लोगों शेरा भाटी, शाहिद, अमरचंद व एक अन्य द्वारा उनके साथ कथित रूप से अभद्र व्यवहार, मारपीट आदि किये जाने का आरोप लगाया गया है।

चारों आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर सभी लोग एडीएम कार्यालय भी गए, जहां एडीएम अनिल कुमार महला को ज्ञापन सौंपकर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की गई। एडीएम ने मामले में समुचित कार्यवाई का आश्वासन दिया।

You might also like