जवान के पैतृक काजला गांव में किया गया राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

बुहाना (सुरेंद्र डैला)। उपखंड के काजला गांव के जितेंद्र कुमार एसएसबी 13 बटालियन का जम्मू-कश्मीर में तैनात का ड्यूटी के दौरान फिसलकर गिरने से सोमवार को मौत हो गई थी। ऊंचाई से गिरने पर गम्भीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान मौत हो गई। बड़े भाई पवन कुमार ने बताया कि पांच अप्रैल सांय साढ़े पांच बजे मां व पत्नी से बात हुई थी। अपनी मां को कहा कि वह मई माह में छुट्टी आएगा। उसके दौरान फिसलकर गिरने से एसएसबी के जवान की मौत हो गई थी।उपखण्ड के काजला गांव के जवान जितेंद्र कुमार का जन्म 12 दिसम्बर 1985 में हुआ था। बीए तक पढ़ाई की थी। 30 अक्टूम्बर 2013 में दिल्ली एस एस बी में कलर्क से भर्ती हुआ था। अब जितेंद्र कुमार हवलदार कलर्क पद पर एसएसबी 13 बटालीन में जम्मू-कश्मीर में तैनात था। जितेंद्र कुमार तीन भाईयों में सबसे छोटा था वह जितेंद्र के दो लड़कियां हैं दोनों लड़कियां जुड़वा ढाई वर्ष की है सोमवार को ड्यूटी के दौरान निधन हो जाने के बाद बुधवार को उनके पैतृक काजला गाव में अन्त्येष्टी की गई। उसके बड़े भाई पवन कुमार ने मुखाग्नि दी। जब बुधवार को जितेंद्र कुमार का शव गांव में पहूंचा तो सूचना परिजनों को मिलने पर कोहराम मच गया। परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया। वैसे परिवार के अलावा जितेंद्र कुमार की मौत का गांव में मंगलवार को पत्ता चलने से गमगीन माहौल था।
बुधवार दोपहर जितेंद्र कुमार के पैतृक गांव में राजकीय सम्मान के साथ अन्त्येष्टी की गई। इस मौके पर विधायक सुभाष पूनिया, पूर्व विधायक श्रवण कुमार, तहसीलदार मांगे राम पूनिया, सीआई महेंद्र सिंह व शव के साथ आए एस एस बी के अधिकारी व जवानों ने सलामी देकर पुष्प चक्र अर्पित किए। जितेंद्र कुमार की शवयात्रा में सैकड़ों की संख्या में लोग मौजूद थे। जिनमें सोमवीर लाम्बा, पूर्व विडियो गंगा राम बासड़ी, जयनारायण चौधरी, जयपाल चौधरी, सज्जन सोनी, अशोक काजला, शिबू शर्मा, मुकेश कुमार शर्मा, डाक्टर प्रितमसिंह,  हवासिंह, सीताराम, हरपाल, संदीप चौधरी, आदि मौजूद थे।
You might also like