किसानों को दें फसल बीमा आवेदन में कमी सुधार का मौका

चूरू (पीयूष शर्मा). कलक्टर सांवरमल वर्मा ने गुरुवार को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनांतर्गत जिला स्तरीय निगरानी समिति एवं जिला स्तरीय शिकायत निराकरण समिति की बैठक ली।

अपने चैंबर में हुई बैठक में कृषि उपनिदेशक दीपक कपिला ने बताया कि गैर ऋणी कृषकों के आवेदन पत्रों की जांच के लिए तहसीलवार पटवारी, गिरदावर, सहायक कृषि अधिकारी, कृषि पर्यवेक्षक व बीमा कम्पनी के प्रतिनिधि को शामिल करते हुए तीन सदस्यीय कमेटी गठित की गई है। कलक्टर ने एसबीआई जनरल इन्श्योरेन्स कम्पनी प्रतिनिधि से कहा कि यदि कृषक के आवेदन में कोई कमी रह गई है तो किसान को सुधार का अवसर दें। बीमा कम्पनी के प्रतिनिधि ने बताया कि आवेदन पत्रों में पाई गई कमियों की सूचना संबंधित ई मित्र पर भेजी जाएगी। कृषक अपनी कमियां वहां सही करवा सकते हैं। कलक्टर ने कहा कि बीमा कम्पनी एक कैलेण्डर तय कर 12 सितम्बर से 11 अक्टूबर तक बीमित कृषकों को बीमा पॉलिसी का वितरण संबधित तहसील मुख्यालय पर नियुक्त बीमा कम्पनी के कार्मिकों के माध्यम से करवाएं। सभी बीमित कृषक अपनी बीमा पॉलिसी तहसील मुख्यालय से प्राप्त कर सकते हैं। किसान नेता निर्मल कुमार ने किसानों को बीमा का समुचित लाभ देने के लिए अहम सुझाव दिए। बैठक में एलडीएम नरेश नागपाल, कॉपरेटिव बैंक एमडी मदन लाल शर्मा, सहायक निदेशक जनसंपर्क कुमार अजय, कृषि अधिकारी कुलदीप शर्मा व परमेश्वर न्योल आदि उपस्थित थे।

You might also like