सरपंचों का पांच दिवसीय आवासीय प्रशिक्षण कल से

सरदारशहर (कुलदीप राव, ब्रह्मभट्ट)। निदेशक इंदिरा गांधी पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास संस्थान जयपुर के आदेशों की पालना में राष्ट्रीय ग्राम स्वरोजगार अभियान योजना के अंतर्गत नवनिर्वाचित सरपंचों एवं वार्ड पंचों का पंचायती राज आमुखीकरण प्रशिक्षण (आवासीय कार्यशाला) 8 से 12 फरवरी तक ओसवाल बड़ाबास पंचायती ट्रस्ट राजवाले कुए के पास सरदारशहर में आयोजित किया जाएगा। प्रशिक्षण पूर्णतया पांच दिन का आवासीय होगा।

प्रशिक्षण सत्र का शुभारंभ 8 फरवरी को प्रात: 10 बजे प्रधान निर्मला राजपुरोहित, उपखंड अधिकारी रीना छिंपा, तहसीलदार कुण्टेन्द्र कवर राठौड़, विकास अधिकारी दुर्गाराम पारीक के द्वारा किया जाएगा। इस प्रशिक्षण सत्र आमुखीकरण कार्यशाला में जिला स्तर से प्रशिक्षित प्रशिक्षकों द्वारा पंचायती राज जनप्रतिनिधियों एवं ग्राम विकास अधिकारियों को विभिन्न विभागों एवं संस्थाओं में पंचायती राज की भूमिका के बारे में जानकारी दी जाएगी। साथ ही पंचायती राज कानून, पंचायती राज नियम 1996, पंचायती राज के अधीन पांच विभाग कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य, सामाजिक न्याय एवं महिला बाल विकास विभाग के संबंध में भी जानकारी दी जाएगी।

नवनिर्वाचित सरपंचों को पंचायत राज व्यवस्था संचालन, नेतृत्व क्षमता तथा 73 वें पंचायत राज सविधान संशोधन, त्रिस्तरीय पंचायत राज व्यवस्था, पंचायत राज में गैर सरकारी संगठनों की भूमिका, सूचना अधिकार अधिनियम, पारदर्शी एवं जवाबदेह प्रशासन, मिनी सचिवालय, कमजोर, वंचित वर्गो के विकास, पंचायत राज में महिलाएं एवं युवाओं की भूमिका आदि के बारे में किशनलाल, योगेंद्रसिंह, रोशनअली, सावंतराम, पवनकुमार पारीक, अशोक चंद्र, भागीरथ प्रसाद सहायक विकास अधिकारी, मुकेश कुमार तिवारी बाल विकास परियोजना अधिकारी, प्रभा सारण महिला पर्यवेक्षक, जयलाल मोटसरा पूर्व सरपंच, मानसिंह शेखावत सहायक अभियंता, निरंजन पारीक लेखाधिकारी, सांवरमल जाखड़ कृषि अधिकारी, नंदलाल सिद्ध कनिष्ठ अभियंता, लूणाराम सैनी ग्राम विकास अधिकारी एवं गैर सरकारी संगठन के रूप में मरुधर प्रगति संस्थान, सरस्वती शिक्षण संस्थान, कृषि विज्ञान केंद्र, गांधी विद्या मंदिर के प्रतिनिधि के द्वारा जानकारी दी जाएगी।

You might also like