बोर्ड परीक्षा टालने की मांग बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण को लेकर

जयपुर (हिन्द ब्यूरो)। राजस्थान में जैसे जैसे कोरोना संक्रमण का ग्राफ तेजी से फैलता जा रहा है,वैसे वैसे ही राजस्थान में मई में होने वाली सीबीएसई व माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की परीक्षाओं सहित देश में बोर्ड परीक्षाएं स्थगित करने की मांग उठने लगी हैं।

इसके लिए ट्विटर पर #cancleboardexams2021 ट्रेंड कर रहा है

यूजर्स ने लिखा है कि कई देशों ने अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए परीक्षाएं रद्द कर दी हैं। भारत में भी यह कदम उठाया जाना चाहिए। कई यूजर्स 10वीं और 12वीं के छात्रों को प्रमोट करने और बिना परीक्षा के ही पास करने की भी मांग कर रहे हैं। वही, कई यूजर्स ने महाराष्ट्र में होने वाली बोर्ड परीक्षा टालने की मांग की है। महाराष्ट्र में गंभीर होती कोरोना महामारी की स्थिति के कारण राज्य की स्कूल शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने पहली से आठवीं तक के बच्चों को बिना परीक्षा के ही पास करने का फैसला किया है। इसके बाद अब मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने 10वीं और 12वीं के छात्रों को भी सीधे पास किए जाने की मांग की है।

छत्तीसगढ़ में भी बोर्ड परीक्षाएं टालने की मांग उठी है। कोरोना संक्रमण को लेकर विद्यार्थी और उनके अभिभावक भी चिंतित हैं। अभिभावकों ने मांग की है कि परीक्षाएं आगे बढ़ा देना चाहिए। दुर्ग से विधायक अरूण वोरा ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखकर 15 अप्रैल से होने वाली 10वीं की बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित करने की मांग की है।

कोरोना महामारी के कारण सबसे पहले बोर्ड परीक्षाएं टालने का फैसला पंजाब सरकार ने लिया था। पंजाब में पहले बोर्ड परीक्षाएं 22 मार्च से 09 अप्रैल तक होनी थीं। लेकिन कोरोना के केस बढ़ने के कारण इसे टाल दिया गया। नई घोषणा के अनुसार अब 10वीं की परीक्षाएं 04 मई से 24 मई और 12वीं की परीक्षाएं 20 अप्रैल से 24 मई तक होंगी। इधर, उत्तर प्रदेश में 24 अप्रैल से निर्धारित बोर्ड परीक्षाओं के शुरू होने को लेकर अभी भी स्थिति साफ नहीं है। आधिकारिक तौर पर कुछ भी नहीं कहा गया है, लेकिन माना जा रहा है कि यहां परीक्षाएं मई में ही होंगी।

कोरोना के केस बढ़ने के कारण मध्य प्रदेश में भी बोर्ड परीक्षाओं पर तलवार लटकने लगी है। यहां बोर्ड परीक्षाएं 30 अप्रैल से शुरू होनी हैं, लेकिन इसपर फैसला 12 अप्रैल को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में होगा। सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाएं भी 4 मई से शुरू होने वाली हैं, लेकिन उनको टालने की मांग भी उठने लगी है। कई छात्र ट्विटर पर #cancelboardexams2021, Cancel our CBSE board exams 2021 ट्रेंड कर इसे केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को टैग कर रहे हैं।

You might also like