बारिश से बदहाल मोहल्ले में जीना दुश्वार, गैनाणी बनी नासूर

नगर परिषद नहीं कर रही समस्या का समाधान

   

चूरू (पीयूष शर्मा). शहर में बाबोसा मंदिर क्षेत्र में बारिश से बदहाल मोहल्ले में रहना आमजन के लिए दुश्वार हो रहा है।

यहां वर्षों से संचालित गैनाणी पर लगे पंप सैट के आसपास जमा गंदगी के कारण पानी की निकासी नहीं होने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। आसपास की पूनिया कॉलोनी, शर्मा कॉलोनी, गांधी कॉलोनी, शिव कॉलोनी व ओम कॉलोनी सहित पांच-छह कॉलोनियों के आवागमन के इस मुख्य रास्ते पर फैला कीचड़ बीमारियां बांट रहा है। नगर परिषद की ओर से करीब 20 दिन पहले नाले पर लगाए गए फेरो कवर भी अब टूट कर अंधेरे में हादसों का सबब बन रहे हैं। जरा सी बारिश के बाद कीचड़ से बदहाल रास्ते के कारण लोगों को पूरे दिन घरों में ही रहना पड़ता है। वार्ड पार्षद लीलाधर शर्मा ने बताया कि गैनाणी की समस्या को लेकर कई बार नगर परिषद सभापति को लिखित व मौखिक रूप से अवगत करवाने व धरना-प्रदर्शन करने के बावजूद अब तक समस्या जस की तस है। बता दें कि यहां आस-पास की कई कॉलोनियों का पानी एकत्रित होता है।

बारिश तो दूर बादल देख डर जाते हैं वार्डवासी

भले ही आमजन के लिए बारिश खुशियों की सौगात लाती हो, मगर यहां मोहल्लेवासी बारिश तो दूर बादल देख डरते बारिश ना होने की दुआ मांगते नजर आते हैं। मोहल्लवासियों का कहना है कि गंदगी के कारण मौसमी बीमारियां फैलने का खतरा रहता है। नगर परिषद की ओर से संचालित गैनाणी पर लगा पंप सैट समय पर नहीं चलने से बारिश के दो-तीन दिन बाद तक गंदा पानी एकत्रित रहता है। वार्डवासी भाजपा नेता विष्णु शर्मा, सांवरमल सैनी, शिवकुमार शर्मा, मुकेश सारस्वत, गौरीशंकर जालुका, शंकरलाल शर्मा, कमल जालुका, गजानंद सारस्वत आदि ने नगर परिषद से समस्या का स्थाई समाधान करने की मांग की।

नाला बने तो हो समस्या का स्थाई समाधान

पार्षद लीलाधर शर्मा के मुताबिक समस्या स्थल से थोड़ा आगे बनाया गया सीवरेज-ड्रेनेज का नाला सही तरीके से नहीं लगाए जाने के कारण पानी की निकासी नहीं हो पाती है। ऐसे में नाले को शक्ति मंदिर के पास बने नाले में जोडऩे से समस्या का स्थाई समाधान किया जा सकता है। मगर परिषद ध्यान नहीं दे रही है।

You might also like