मुम्बई-दिल्ली से आए यात्रियों की जांच की

रींगस (विद्याधर शर्मा)। कस्बे के रेलवे स्टेशन पर मुंबई से अरावली स्पेशल ट्रेन तथा दिल्ली सराय रोहिल्ला से जनशताब्दी एक्सप्रेस से आए यात्रियों की प्रशासन द्वारा कोविड-19 जांच की और जिन यात्रियों की जांच रिर्पोट नहीं थी उन यात्रियों के रेंडम सैंपल लेकर भेजा गया।

राज्य सरकार के दिशा निर्देशानुसार जिला कलेक्टर अविचल चतुर्वेदी के आदेश के बाद उपखंड अधिकारी लक्ष्मीकांत गुप्ता, तहसीलदार महिपाल राजावत, ब्लॉक मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ज्योति प्रकाश सैनी के निर्देशन में राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा अधिकारी डॉ मनीष मीणा के नेतृत्व में सैंपल लिए गए और कोरोना रिपोर्ट आने तक बाहरी लोगों को अंबेडकर भवन में ठहराया गया।

उपखंड अधिकारी लक्ष्मीकांत गुप्ता ने बताया कि अरावली स्पेशल ट्रेन में करीब 10 यात्री अजमेर व पाली आदि जिलों से स्थानीय कर्मचारी आए तथा दिल्ली से आई जनशताब्दी एक्सप्रेस रेलगाड़ी में करीब 130 यात्री आए उनमें से 20 यात्रियों की कोरोना रिपोर्ट नहीं होने पर रैंडम सैंपल लिए गए।

सैंपल के लिए यात्रियों को कोरोना गाइड लाइन की पालना करने के लिए निर्देश देकर घर भेज दिया और दूर जाने वाले यात्रियों के ठहराव के लिए अंबेडकर भवन में व्यवस्था की गई। इस अवसर पर पटवारी सुरेश बलौदा, स्टेशन अधीक्षक सुखदेव सिंह धायल, अधिशासी अधिकारी ममता चौधरी, थाना प्रभारी बद्री प्रसाद मीणा सहित अनेक अधिकारी उपस्थित रहे।

रेलवे सुरक्षा बल ने नहीं किया सहयोग
राज्य सरकार की गाइड लाइन के अनुसार रेलवे स्टेशन पर उपखंड अधिकारी, तहसीलदार, अधिशासी अधिकारी, रींगस थाना अधिकारी सहित चिकित्सा अधिकारी सभी करीब डेढ़ घंटे पहले ही रेलवे स्टेशन पर पहुंच गए। ट्रेन आने पर यात्रियों की जांच की गई। इस दौरान रेलवे सुरक्षा बल के थानाधिकारी नरेश कुमार मात्र औपचारिकता बनकर खड़े रहे। उपखंड अधिकारी लक्ष्मीकांत गुप्ता के कहने पर भी रैंडम सैंपल रूम के सामने स्टाफ को नहीं लगाया गया हालांकि बाद में थाना प्रभारी बद्रीप्रसाद मीणा ने व्यवस्था के लिए पुलिस प्रशासन के जवान लगाए।

You might also like