चौहान बने एबीवीपी के लगातार दूसरे वर्ष राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य

झुंझुनू (अंजना बाकोलिया )। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का 68वां राष्ट्रीय अधिवेशन 25 से 27 दिसंबर गुलाबी नगरी जयपुर में महाराणा प्रताप नगर में सम्पन्न हुआ। एबीवीपी झुंझुनू नगर मंत्री पंकज सैनी ने जानकारी देते हुए बताया कि इस तीन दिवसीय अधिवेशन में शिक्षा, राष्ट्र व समाज के अनेक विषयों पर चर्चा हुई ।

अधिवेशन के समापन सत्र में एबीवीपी राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ राजशरण शाही ने वर्ष 2022-2023 के लिए राष्ट्रीय पदाधिकारी व कार्यकारिणी की घोषणा की। जिला संयोजक लक्ष्मीकांत डुलगच ने बताया कि अधिवेशन में झुंझुनू विभाग एवं सीकर, चूरू विभाग विभाग संगठन मंत्री समशेर सिंह चौहान को दोबारा राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य का दायित्व सौंपा गया है।

समशेर सिंह की स्कूली शिक्षा महेंद्रगढ़ (हरियाणा) व उच्च शिक्षा राजस्थान विश्वविद्यालय से सम्पन्न हुई है। समशेर सिंह लंबे समय से एबीवीपी से जुड़े हुए हैं। वह पूर्व में महाविद्यालय कार्यकारिणी सदस्य, 2015 में राजस्थान विश्वविद्यालय में छात्रसंघ चुनाव में सचिव के रूप में एबीवीपी के प्रत्याशी रहे हैं, 2015 से पूर्णकालिक कार्यकर्ता अर्थात प्रचारक के रूप में विद्यार्थी परिषद जयपुर प्रांत में कार्य कर रहे हैं।

पूर्व में जयपुर महानगर विस्तारक, अलवर जिला संगठन मंत्री, भरतपुर-धौलपुर विभाग संगठन मंत्री, अलवर विभाग संगठन मंत्री के दायित्व का निर्वहन कर चुके हैं व वर्तमान में झुंझुनू विभाग व सीकर, चूरू विभाग के संगठन मंत्री हैं। समशेर सिंह चौहान ने अलग-अलग दायित्वों का निर्वहन करते हुए विभिन्न जिलों में छात्र आंदोलनों का नेतृत्व कर उन्हें सफल किया हैं व हजारों छात्र-छात्राओं को राष्ट्रवादी विचारधारा से जोड़ा है।

एबीवीपी प्रांत कार्यकारिणी सदस्य नितेश तिवारी ने बताया कि समशेर सिंह चौहान को राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य के रूप में दोबारा दायित्व मिलने पर स्थानीय विद्यार्थी परिषद कार्यकर्ताओं ने खुशी जाहिर की व शुभकामनाएं प्रेषित की।

You might also like
You cannot print contents of this website.