कृषि महाविद्यालय मंडावा क्षेत्र के लिए बड़ी उपलब्धि- रीटा चौधरी

मंडावा (किशोरसिंह जाटू)। कृषि महाविद्यालय मंडावा का शिक्षा सत्र 2021-22 इसी साल शुरू हो जाएगा। सत्र शुरू करने को लेकर गुरूवार को मंडावा विधायक रीटा चौधरी के साथ बीकानेर कृषि विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर छत्रपालसिंह के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सज्जनलाल मिश्रा, पालिकाध्यक्ष नरेश सोनी ने श्री करणी कृपा शिक्षण संस्थान में अस्थाई रूप से संचालित होने वाले कृषि महाविद्यालय भवन का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं को जायजा लिया। साथ ही महाविद्यालय का जहां नया भवन श्योपुरा के जोहड़ में बनेगा उस जगह का भी निरीक्षण किया। तथा महाविद्यालय का भवन बनने तक भामाशाह श्री करणी कृपा शिक्षण संस्थान की प्रबंध समिति सचिव सुशीला देवी, अध्यक्ष किरण देवी, बनवारीलाल भादूपोता व मनोज भादूपोता का आभार जताया। भामाशाह ने संस्थान परिसर में कृषि महाविद्यालय के लिए निशुल्क भवन के साथ बिजली व पानी की भी निशुल्क व्यवस्था की है ताकि नया भवन बनने तक महाविद्यालय का पहला सत्र शुरू करने में किसी प्रकार की परेशानी ना आए। विधायक रीटा चौधरी ने इस दौरान पत्रकारों से चर्चा करते हुए बताया कि मैने कृषि महाविद्यालय के लिए सीएम से बात की तो उन्होंने मेरेे प्रस्ताव को स्वीकार कर इसकी घोषणा की।

तथा इस बार सरकार ने मंडावा के लिए आईटीआई कॉलेज, हेतमसर में कन्या महाविद्यालय, उप तहसील मंडावा को तहसील में क्रमोन्नत करना, पंचायत समिति, खेल स्टेडियम, सीवेरज प्रोजक्ट क्षेत्र की जनता के लिए बड़ी उपलब्धि है। तथा मेरे पिताजी के सपनों को पुरा करते हुए क्षेत्र की जनता की बिना किसी भेदभाव के सेवा करना व विकास कार्यो को प्रमुखता देना ही मेरा उद्देश्य है। विधायक रीटा ने कहा की आने वाले समय में और भी ऐसे विकास कार्य होंगे जिससे विकास कार्यो में नए आयाम स्थापित होंगे। साथ ही विधायक नें केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा की उनका नोट बंधी, जीएसटी सहित कई ऐसे फैसलों से युवाओं का रोजगार चला गया। इस बीच मंडावा विधानसभा क्षेत्र जनता को रोजगार मिलने के उद्देश्य से मलसीसर में रीको खुलवाया जिससे रोजगार बढ़ेगा। विधायक ने कहा की आने वाले कई विद्यालयों में कृषि विज्ञान संकाय विषय भी खुलवाने का प्रयास होगा। बीकानेर कृषि विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर छत्रपालसिंह ने बताया कि कृषि महाविद्यालय मंडावा में शैक्षिणक गतिविधियों अगस्त अंतिम सप्ताह या सितंबर प्रथम सप्ताह में शुरू कर दी जाएगी।

महाविद्यालय का भवन तैयार होने तक अस्थाई भवन में कृषि महाविद्यालय संचालित होगा। तथा प्रथम वर्ष में 60 विद्यार्थियों को प्रवेश दिया जाएगा जिसको लेकर ऑनलाइन आवेदन भरे जा रहे है। जिनकी अंतिम तिथि 11 जून है और जुलाई में प्रवेश परीक्षा होना प्रस्तावित है। नए भवन के लिए 6 करोड़ रूपए का बजट भी स्वीकृत हो चुका है। इस दौरान भामाशाह मनोज भादूपोता, गणेशसिंह शेखावत, कैलाशसिंह राठौड़, सुनील जोशी, ईओ अविनाश शर्मा, नायब तहसीलदार सुनिता रैवाड़, थानाधिकारी महावीरसिंह, पटवारी जितेंद्र कुमार, भी मौजूद थे।

You might also like