आर्मी भर्ती के नाम पर दो लाख ठगाकर खुद ने ठगे 2 करोड़ रुपए, विधायक बनना चाहता है ठग

सीकर (अनिल सोनी)। नौकरी दिलाने के नाम पर बेरोजगारों से दो करोड़ रुपए ठगने वाला मध्य प्रदेश का आशीष शर्मा सोनिया गांधी ब्रिगेड का पूर्व युवा प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुका है। उद्योग नगर थाना पुलिस को आरोपी के कब्जे से एक लेटर पेड बरामद हुआ है।

पुलिस की जांच में सामने आया है कि आशीष एमपी से विधायक का चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहा था। क्योंकि पिछले साल आशीष ने एमपी में सरकार गिरने के बाद प्रचार-प्रसार में 30 से 40 लाख रुपए खर्च कर दिए थे।

सोनिया गांधी ब्रिगेड ऑल इंडिया कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर लोकपाल सिंह का कहना था कि आशीष शर्मा को युवा प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी मिली थी। लेकिन, इसके बाद कार्यकारिणी को भंग कर दिया गया था। दो साल पहले आरोपी के खुद के साथ भी नौकरी के नाम पर ठगी हो चुकी है।

जांच अधिकारी अनुसार 2018 में आशीष के साथ भी आर्मी में भर्ती होने के नाम पर दो लाख रुपए की ठगी हो गई थी। इसके बाद आरोपी ने भी लड़कियों की फेक फेसबुक आईडी बनाकर और खुद को आर्मी में अफसर बताकर लोगों को ठगना शुरू कर दिया था। ठगी की वारदात आशीष ने कितने लोगों के साथ की है। अब खुद को भी याद नहीं है। आरोपी आशीष को कोर्ट में पेश किया गया। यहां मजिस्ट्रेट के आदेश पर उसको जेल भिजवा दिया गया है।

पुलिस के अनुसार ग्वालियर में पकड़ में आने के बाद पुलिस ने इसके कमरे की तलाशी ली तो इसके पर्स में मात्र 100 का नोट मिला था। आरोपी ने ठगी के पैसे इसने माइंस में भी लगा रखे थे।

You might also like